About Us

सच जानना आप का अधिकार है यह कोई लोकोक्ति या मुहावरा नहीं, किसी नेता-दार्शनिक या वैज्ञानिक द्वारा दिया गया सन्देश नहीं, किसी सन्त-ज्ञानी या महात्मा द्वारा दिया गया उपदेश नहीं, वरन् वायकन न्यूज़” (Wyrcan News) के मुख पृष्ठ का एक अंग है, मीडिया का समाज के प्रति कर्तव्यों व कटिबद्धताओ को प्रदर्शित करता हुआ एक वाक्य है एवं आज के स्वार्थ भरे समाज में आधुनिकता की धुंध में खोते हुए नैतिक मूल्यों, आदर्शों व उच्च वैचारिकताओं को पुनर्स्थापित करने हेतु हमारे द्वारा दिया गया एक नारा है।

आप के सच जानने के अधिकार को आप तक पहुँचाने के ध्रुव-संकल्प के साथ वायकन न्यूज़ टीम (Wyrcan News Team) पत्रकारिता के मैदान मे उतरी है | आज पत्रकारिता के निरंतर गिरते हुए स्तर की मुख्य वजह यह है कि अधिकतर मीडिया संस्थान, अख़बार, टेलीविज़न चैनल या मीडिया वेबसाइट जनहित या पत्रकारिता के हित को ध्यान में रखते हुए नहीं चलाए जा रहे हैं, वरन संस्थान के मालिक, किसी नेता या विज्ञापन के हित को ध्यान में रख कर चलाए जा रहे हैं। मीडिया को लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ की संज्ञा दी गयी है, किंतु आज मीडिया के ऊपर सरकार, उद्योगपति व प्रभावशाली लोग इतने हावी हो चुके हैं कि वास्तविक ख़बरों को छिपा कर इसके उलट गलत ख़बरों को जनता के बीच डाल देना एक प्रचलन सा हो गया है। यह पत्रकारिता का अत्यंत बिगड़ा हुआ स्वरूप है जिसके कारण दिन प्रति दिन मीडिया के प्रति जनता का विश्वास गिरता जा रहा है।

जनता के पत्रकारिता के प्रति निरंतर गिरते विश्वास को वापस लाने के उद्देश्य से ही वायकन न्यूज़ (Wyrcan News) जनवरी 2020 में अस्तित्व में आया। हम सच्ची, विश्वसनीय एवं गुणवत्तापूर्ण ख़बरों को ही जनता के सामने रखते हुए पत्रकारिता के उस स्वरुप को वापस लाना चाहते हैं जहाँ सिर्फ व सिर्फ पत्रकार व पाठक को ही महत्व दिया जाए। किंतु इस पुनीत कार्य मे आप सब सुधी पाठक गण की सहभागिता भी अपेक्षित है। हमारे विद्वान पाठक यदि इस तरह की पत्रकारिता को पुनः स्थापित करना चाहते हों, सच तक पहुंचना चाहते हों, व चाहते हों कि प्रत्येक ख़बर बिना किसी मिर्च मसाला के, अपने शुद्ध रूप मे साफगोई के साथ पेश की जाए तो सामने आयें और ऐसे संस्थानों को अपना भरपूर सहयोग प्रदान करें जो अपने मूल्यों व आदर्शों से समझौता न करने हेतु प्रतिबद्ध हों।

एक संस्थान के रूप मे वायकन न्यूज़ (Wyrcan News) जो कि वायकन वर्ल्ड फाउंडेशन” (Wyrcan World Foundation) द्वारा संचालित है एवं भारत सरकार के  कंपनी एक्ट 2013 के तहत सेक्शन 8 कंपनी (नॉन प्रॉफिटेबल संस्थान) के रूप में पंजीकृत है, आमजन के हितों व लोकतान्त्रिक मूल्यों के अनुसार चलने हेतु कृतसंकल्प  है। अतः हमारी पाठकों से यह अहर्निश गुज़ारिश है कि हमें पढ़ें, शेयर करें, यदि आप हमारी ख़बरों की गुणवत्ता से संतुष्ट हों तो दूसरों से कहें, यदि कुछ कमियाँ नज़र आयें तो हमे सुझाव देना न भूलें ताकि हम भविष्य में भी और अधिक गुणवत्तापूर्ण ख़बरें प्रकाशित करते हुए आप के प्रति अपने विश्वास को कायम रख सकें।

इस  पथ  का  उद्देश्य  नहीं  है  श्रांत  भवन  में टिक रहना। 
किन्तु पहुँचना उस मंजिल तक, जिसके आगे राह नहीं है।।

 

यदि आप हमें कोई सुझाव देना चाहते है या हमसे कोई शिकायत है तो कृपया हमें इस पते पर ईमेल करे: wyrcannews@gmail.com

This site uses cookies. By continuing to browse the site you are agreeing to our use of cookies.