प्रयागराज में चार लोगों की हत्या पर मायावती-अखिलेश यादव-प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश सरकार को घेरा

प्रियंका गांधी के साथ बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती और समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने प्रयागराज के हत्याकांड को लेकर शनिवार योगी सरकार और उत्तर प्रदेश की खराब कानून-व्यवस्था को लेकर सरकार पर करारा प्रहार किया है।

प्रयागराज में चार लोगों की हत्या पर मायावती-अखिलेश यादव-प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश सरकार को घेरा
प्रयागराज में चार लोगों की हत्या पर मायावती-अखिलेश यादव-प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश सरकार को घेरा

लखनऊ, जेएनएन। प्रयागराज के फाफामऊ में दलित परिवार के चार लोगों की नृशंस हत्या के बाद अब राजनीति गरमा गई है। कांग्रेस तथा आम आदमी पार्टी के बाद अब बहुजन समाज पार्टी तथा समाजवादी पार्टी ने उत्तर प्रदेश की कानून-व्यवस्था पर सवाल खड़े किये है।

बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती के साथ ही समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने प्रयागराज के हत्याकांड को लेकर शनिवार को ट्वीट किया है। दोनों नेताओं ने उत्तर प्रदेश की खराब कानून-व्यवस्था को लेकर सरकार पर करारा प्रहार किया है और प्रियंका गांधी ने पीड़ित परिवार से मिलने के बाद कहा उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था की धज्जियां उड़ाई जा रही है। 

उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बीएसपी प्रमुख मायावती ने कहा, योगी आदित्यनाथ सरकार भी समाजवादी पार्टी के नक्शेकदम पर चल रही है। प्रयागराज की घटना यूपी की कानून व्यवस्था का सच बताती है। बसपा मुखिया मायावती ने उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था पर सवाल उठाये है। प्रयागराज में हाल ही में दबंगों द्वारा एक दलित परिवार के चार लोगों की निर्मम हत्या कर दी गई। जो बता रही है कि यूपी में कानून की क्या व्यवस्था है। योगी आदित्यनाथ सरकार के सारे दावों की इस घटना ने पोल खोल कर रख दी है। मायावती ने कहा कि सरकार सभी दोषी दबंगों के विरुद्ध सख्त कानूनी कार्रवाई करे।

बसपा प्रमुख मायावती ने कहा कि इस घटना के बाद सबसे पहले बाबूलाल भांवरा के नेतृत्व में पहुंचे बसपा के प्रतिनिधिमण्डल ने बताया कि प्रयागराज में दबंगों का जबरदस्त आतंक है। जिसके कारण ही यह घटना हुई है। बसपा की मांग है कि प्रदेश सरकार सभी दोषी दबंगों के विरुद्ध सख़्त कानूनी कार्रवाई करे।

समाजवादी पार्टी के मुखिया और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी एक ट्वीट किया है। उन्होंने कहा कि इलाहाबाद के फाफामऊ में दबंगों ने चार दलितों की हत्या कर दी है। यह घटना तो दलित विरोधी भाजपा सरकार पर एक और बदनुमा दाग है। यह घोर निंदनीय। उम्मीद है सभी अपराधी बिना चश्मे के भी दिख जाएंगे।

आपको बता दे कि, प्रयागराज में मंगलवार को एक दलित परिवार के चार सदस्यों की कुल्हाड़ी से काटकर हत्या कर दी गई थी। परिवार के लोगों का आरोप है कि नाबालिग बेटी के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया। पुलिस ने 11 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है। सभी पर हत्या, दुष्कर्म, पाक्सो और एससी-एसटी एक्ट की धाराएं लगाई गई हैं। इस मामले में लापरवाही बरतने पर इंस्पेक्टर फाफामऊ राम केवट पटेल सहित दो अन्य पुलिसकर्मियों को निलंबित भी किया गया है। 

प्रियंका बोलीं- पीड़ित परिवार के साथ हूं।

इससे पहले प्रियंका गांधी ने इलाहाबाद में फूलचंद पासी के परिवार से मिलकर उनके दर्द पर मरहम लगाया। प्रियंका ने दावा किया कि मुलाकात के दौरान पीड़ित फूलचंद पासी के परिजनों ने उन्हें बताया कि स्थानीय पुलिस ने गुंडों को संरक्षण दे रखा है। परिजनों का कहना है कि हमारी बात ही नहीं सुनी जाती थी और स्थानीय प्रशासन खुलकर गुंडों का साथ देता था। 

योगी सरकार की तीखी आलोचना करते हुए प्रियंका गांधी ने कहा कि प्रदेश में कानून-व्यवस्था की खुलकर धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। इस सरकार में गरीबों, दलितों एवं वंचितों की कोई सुनवाई नहीं है। संविधान दिवस पर इंसाफ संविधान का सबसे महत्वपूर्ण मूल्य है। मैं न्याय की लड़ाई के साथ हूं।